World Cup 2023 : pcc ने टेके घुटने, वन डे वर्ड कप खेलने PAK टीम आएगी इंडिया

 World Cup 2023: वनडे वर्ल्ड कप (ODI World Cup 2023) इसी साल अक्टूबर-नवंबर के बीच भारत में खेला जाना है. भारत में इस साल होने वाला वर्ल्ड कप मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 5 अक्टूबर से शुरू होगा और फाइनल मैच 19 नवंबर को खेला जाएगा. लेकिन पाकिस्तान की टीम इस टूर्नामेंट के लिए भारत का दौरा करेगी या नहीं इसको लेकर एक बड़ा अपडेट सामने आया है. हाल ही में कुछ रिपोर्ट्स में कहा था कि पाकिस्तान अपने मैचों के लिए हाइब्रिड मॉडल लागू करने पर जोर दे सकता है.

वर्ल्ड कप 2023 के लिए ICC ने उठाया बड़ा कदम

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) के अध्यक्ष और सीईओ यह आश्वासन पाने के लिए अभी लाहौर में हैं कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड इस साल भारत में होने वाले वर्ल्ड कप में अपने मैचों के लिए हाइब्रिड मॉडल लागू करने पर जोर नहीं देगा. सूत्रों ने पीटीआई से पुष्टि की है कि आईसीसी के अध्यक्ष ग्रेग बार्कले और सीईओ ज्योफ एलार्डिस विशेषकर इसलिए लाहौर पहुंचे हैं. वह वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए आश्वासन हासिल कर रहे हैं.

पीसीबी के प्रमुख नजम सेठी ने रखी दी ये मांग

पीसीबी के प्रमुख नजम सेठी ने स्पष्ट किया है कि अगर भारतीय टीम एशिया कप के लिए पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगी तो फिर उनकी टीम भी वर्ल्ड कप के लिए भारत नहीं जाएगी. इसके बाद ही आईसीसी के शीर्ष पदाधिकारी पाकिस्तान दौरे पर आए हैं. सूत्रों ने कहा, ‘आईसीसी और वर्ल्ड कप का मेजबान भारतीय क्रिकेट बोर्ड नजम सेठी के हाइब्रिड मॉडल को लेकर चिंतित हैं. सेठी ने हाइब्रिड मॉडल का सुझाव हालांकि वर्ल्ड कप से पहले होने वाले एशिया कप के लिए दिया है. लेकिन अधिकारी इस बात को लेकर चिंतित हैं कि अगर इस क्षेत्रीय प्रतियोगिता के लिए यह मॉडल स्वीकार कर लिया जाता है तो पीसीबी पाकिस्तान के भारत में खेलने के सवाल पर आईसीसी से वर्ल्ड कप में भी इस मॉडल को लागू करने के लिए कह सकता है.’

Read More:UPI Transaction: इतनी ज्यादा UPI ट्रांजेक्‍शन! दिल्‍ली के कॉफी शॉप में इतनी पेमेंट होते देख चौंक गए जापान के डिजिटल मंत्री

न्यूट्रल वेन्यू पर मैच खेलने की रख सकते हैं मांग

सेठी पहले ही संकेत दे चुके हैं कि यदि पाकिस्तान सरकार सुरक्षा कारणों से टीम को भारत भेजने की अनुमति नहीं देती है तो पीसीबी ऐसी स्थिति में आईसीसी से पाकिस्तान के मैच न्यूट्रल वेन्यू पर करवाने के लिए कहेगा. सूत्रों ने कहा, ‘स्वाभाविक है कि आईसीसी और बीसीसीआई इस तरह की स्थिति नहीं चाहते क्योंकि इससे भारत-पाकिस्तान मैच और यहां तक कि टूर्नामेंट की सफलता भी प्रभावित होगी.’ एक अन्य सूत्र ने कहा कि यही वजह है कि बीसीसीआई के सचिव जय शाह एशिया कप के लिए हाइब्रिड मॉडल को स्वीकार नहीं कर रहे हैं, जिसके तहत तीन या चार मैचों का आयोजन पाकिस्तान में और बाकी मैचों का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात या श्रीलंका में होगा.

Read More:Bajaj Avenge : Royal Enfield नहीं Bajaj के इस क्रूज़र बाइक को पसंद कर रहे युथ, कीमत भी है काफी कम

एशिया कप की वजह से खड़ा हुआ बवाल

पाकिस्तान एशिया कप का मेजबान है और सेठी लगातार दोहरा रहे हैं कि अगर टूर्नामेंट का आयोजन पाकिस्तान की बजाय न्यूट्रल वेन्यू पर किया जाता है तो उनकी टीम प्रतियोगिता में भाग नहीं लेगी. सूत्रों ने इसके साथ ही संकेत दिए कि अगर पाकिस्तान एशिया कप के कुछ मैचों की मेजबानी नहीं करता है तो इसका वर्ल्ड कप पर भी विपरीत प्रभाव पड़ेगा. उन्होंने कहा, ‘आईसीसी के पदाधिकारी पीसीबी और बीसीसीआई के बीच सेतु के रूप में काम करने और एशिया कप और वर्ल्ड कप से संबंधित लंबित मुद्दों को हल करने की कोशिश कर रहे हैं.’

Related Articles

Back to top button