Tomato Price: औकात पर आया टमाटर के भाव,300 से 15 रुपये बिकने को मजबूर

Tomato Price: टमाटर की कीमतों में गिरावट शुरू हो गई है, जिससे उपभोक्ताओं को काफी राहत मिली है, जबकि किसानों को निराशा हुई है। कुछ हफ्ते पहले 180 रुपये से 200 रुपये प्रति किलोग्राम तक बिक रहे टमाटर की कीमत धड़ाम हो गई है। मैसूर एपीएमसी में टमाटर के भा गिरकर 14 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गए हैं। जो शनिवार को 20 रुपये थे। बेंगलुरु में टमाटर का खुदरा मूल्य रविवार को 30-35 रुपये प्रति किलोग्राम के बीच था।

अधिकारी कीमतों में इस महत्वपूर्ण गिरावट का कारण नेपाल से टमाटर के आयात के कारण उत्तरी राज्यों में मांग में कमी को बताते हैं। अधिकारियों का अनुमान है कि थोक बाजार में कीमतें 10 रुपये से 5 रुपये प्रति किलोग्राम तक कम हो सकती हैं।

Read more:Dainik Panchang : 29 अगस्त 2023 का पंचांग, जानें आज के शुभ मुहूर्त व योग

बाजार में टमाटर खूब आया

Tomato Price: मैसूर एपीएमसी के सचिव एम. आर. कुमारस्वामी ने कहा कि रसोई के सामान्य भोजन की अत्यधिक आपूर्ति कीमतों में गिरावट का कारण है। उन्होंने कहा कि एपीएमसी में नियमित रूप से औसतन 40 क्विंटल टमाटर आता है। कर्नाटक राज्य रायथा संघ के महासचिव इम्मावु रघु ने सरकार से टमाटर और अन्य सब्जियों की कीमतों को स्थिर करने के लिए हस्तक्षेप करने का आग्रह किया।

Read more;Arjun Kapoor की बहन ने कैमरा के सामने उतार फेंके अपने ब्रा, यूजर्स बोले – ऐसे सब नहीं डालना…

‘किसानों को भारी नुकसान’

Tomato Price: इम्मावु रघु ने कहा, ‘टमाटर के उत्पादन की लागत 10-12 रुपये प्रति किलोग्राम है। पैकेजिंग और परिवहन के लिए अतिरिक्त 3 रुपये की आवश्यकता होती है। अगर किसानों को सिर्फ 14 रुपये प्रति किलोग्राम मिलते हैं, तो इससे भारी नुकसान होगा। सब्जियों की खरीद, पैकिंग, भंडारण और बिक्री के लिए एक नए तंत्र की तत्काल आवश्यकता है।

Read More:Fact Check: Abhishek Bachchan फिर बने पापा! परिवार में गूंजी किलकारी,आराध्या को मिला प्यारा सा भाई!!

इसलिए घटे टमाटर के दाम

Tomato Price: इम्मावु रघु ने वर्तमान संकट के लिए किसानों द्वारा अपनाई जाने वाली अवैज्ञानिक फसल पद्धति को भी दोषी ठहराया। उन्होंने कहा, ‘जब कीमत बढ़ने लगती है, तो सभी किसान एक ही फसल की खेती करना शुरू कर देते हैं, जिससे बहुतायत होती है और फिर कीमतों में गिरावट आती है। वहीं अभी नेपाल से टमाटर की आयत से भी दाम में कमी आई है।’

Related Articles

Back to top button