Shocking : महिला ने 30 सालों तक जी ‘मर्द’ वाली जिंदगी,वजह जानकर हो जायेंगे हैरान

Shocking : पितृसत्तात्मक समाज में किसी भी औरत का अकेले जिंदगी गुजारना बहुत ही ज्यादा मुश्किल है। जिसके पति का निधन हो गया हो, ऐसी महिला को समाज में बहुत ही मजबूत होकर रहना पड़ता है। आज हम आपको एक ऐसी महिला की कहानी बताने जा रहे हैं, जिसने इस मर्दवादी समाज में अपनी बेटी के लिए कुछ ऐसा काम किया, जिसके बारे में जानकर आप उस महिला को सैल्यूट किए बिना नहीं रह पाएंगे। दरअसल, इस महिला ने अपनी बेटी की खातिर न सिर्फ अपनी पहचान छिपा ली, बल्कि दुनिया के सामने अपना जेंडर बदल लिया।
महिला ने 30 सालों तक जी ‘मर्द’ वाली जिंदगी

 

आपको जानकर हैरानी होगी कि यह महिला पिछले 30 सालों से मर्द बनकर रह रही थी और लोगों को शक तक न हुआ। यह मामला पिछले साल तमिलनाडु से सामने आया था। महिला का नाम एस पेटचियाम्मल है। रिपोर्ट के अनुसार, शादी के 15 दिन बाद ही पेटचियाम्मल के पति की मौत हो गई थी। इसके बाद यह महिला ‘मर्द’ बनकर रहने लगी। सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि आस-पड़ोस के लोगोंं को भी शक नहीं हुआ कि उनके बीच रह रहा शख्स एक महिला है।
बेटी और करीबी रिश्तेदारों के अलावा किसी को भी नहीं था पता
एस पेटचियाम्मल तमिलनाडु के कतुनायाकनपट्टी की रहने वाली थी। पेटचियाम्मल की शादी के 15 दिन बाद ही उनके पति की मौत हो गई थी। तब पेटचियाम्मल की उम्र महज 20 साल थी। अपने पति की मौत के 9 महीने बाद उन्होंने एक बेटी को जन्म दिया। बेटी के जन्म के बाद जब उन्होंने चाय की दुकानों पर काम करना शुरू किया तो उन्हें शोषण का सामना करना पड़ा। इसके बाद उन्होंने ‘मर्द’ बनने का फैसला किया। वह तिर्चेंदुर मुरुगन मंदिर में गईं और अपने बाल कटवा लिए। फिर वह मर्दों की तरह लुंगी और शर्ट पहनने लगीं। उनकी बेटी और करीबी रिश्तेदारों के अलावा किसी को भी यह बात पता नहीं थी कि वह महिला हैं। उन्होंने जहां भी काम किया, अपने पति के पहचान पर जिया। लोगों को पता ही नहीं था कि जिन्हें वह सामने से देख रहे हैं, वह एक महिला है।

Related Articles

Back to top button