Shocking : नहीं थम रहा कोटा में छात्रों के सुसाइड का सिलसिला,एक और छात्र ने की आत्महत्या

Shocking : कोटा में एक और छात्र ने पंखे से फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया है. राजस्थान का कोचिंग हब कहा जाने वाले कोटा इस साल भी स्टूडेंट सुसाइड को लेकर चिंता का विषय बन गया है. राज्य सरकार और प्रशासन की कई कोशिश के बावजूद छात्रों के आत्महत्या का सिलसिला जारी है. पिछले 10 दिनों में कोटा में तीन छात्र आत्महत्या कर चुके हैं. शुक्रवार को कोटा में बीटेक की तैयारी कर रहे नूर मोहम्मद ने आत्महत्या कर ली.

27 वर्षीय छात्र नूर मोहम्मद पुत्र मैनुद्दीन उत्तर प्रदेश के 503-के वीरपुर कटरु गोंडा का रहने वाला था. बीटेक की तैयारी के लिए कोटा के विज्ञान नगर में पीजी में रह रहा था. रिपोर्ट्स के मुताबिक छात्र पिछले चार साल से कोटा में ही था. शुक्रवार को अपने रूम में पंखे पर फंदा लाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने छात्र के परिवार को घटना की जानकारी दे दी है, परिवार के आने के बाद मृतक छात्र के शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा. पुलिस मामले की जांच की जा रही है. अभी आत्महत्या की वजह सामने नहीं आई है और न ही कोई सुसाइड नोट मिला है. छात्र के करीबियों और दोस्तों से जानकारी ली जा रही है.

Read More:Shocking : सामूहिक विवाह में दुल्हनों ने डाली खुद के गले में वरमाला,वजह जान उड़ी प्रशासन की नींद

Shocking : बता दें कि पिछले साल कोटा में 29 छात्र-छात्राओं ने सुसाइड किया था और 2024 की शुरुआत में भी यह गिनती रुकने का नाम नहीं ले रही है. पिछले 10 दिन में तीन छात्रों ने आत्महत्या की है. इनमें दो छात्र उत्तर प्रदेश और एक छात्रा राजस्थान के झालावाड़ का ही रहने वाली थी. जिस छात्रा ने अपनी जान दी है उसका 2 दिनों बाद ही JEE Mains का एग्जाम था. छात्रा के कमरे से सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें उसने अपने माता-पिता से इसके लिए माफी मांगी है.

कोचिंग सेंटरों के उच्च दबाव वाले शैक्षणिक माहौल में छात्रों के सामने आने वाले मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों से निपटने के लिए अधिकारी हर संभव कोशिश कर रहे हैं. छात्रों के साथ ‘कॉफी विद स्टूडेंट्स’ की पहल शुरू की है. कोचिंग संचालकों, पीजी मालिकों, मैसवाले-डब्बा वालों के साथ कई बैठक हुई हैं. इन्हें उन छात्रों पर नजर रखने के लिए कहा गया है जिन में तनाम के लक्षण नजर आते हैं. बावजूद इसके ये घटनाएं तमाम कोशिश को नाकाम साबित कर रही हैं.

Read More:Shocking News : माता पिता को खाने में नींद की गोलियां दे रही थी लड़की, सामने आई हैरान करने वाली सच्चाई

Shocking : कोटा में लगातार छात्रों के खुदकुशी के बाद शिक्षा मंत्रालय ने हाल ही में कोचिंग संस्थानों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए थे. इस दिशा निर्देश में 16 साल से कम उम्र के छात्रों का अब कोचिंग संस्थानों में दाखिला नहीं देने और अच्छे नंबर या रैंक दिलाने की गारंटी जैसे भ्रामक वादे न करने की हिदायत भी दी गई है.

Related Articles

Back to top button