Shocking : स्विमिंग पूल में मगरमच्छ का बच्चा, लोगों में मचा हड़कंप

Shocking :  महाराष्ट्र की राजधानी मंगलवार सुबह मगरमच्छ का एक बच्चा तैरता पाया गया. रिपोर्ट्स के मुताबिक, लाइफगार्ड ने उस नन्हे मगरमच्छ को पूल में तैरते हुए देखा और फिर उसे पकड़ लिया, लेकिन इस दौरान उस बच्चे ने उसके हाथों को काट लिया. मगरमच्छ के बच्चे को अब एक ड्रम के अंदर सुरक्षित रखा गया है.

महात्मा गांधी स्विमिंग पूल के समन्वयक संदीप वैशम्पायन ने मीडिया को बताया कि पूल के कर्मचारी नियमित रूप से सुबह कोई भी काम शुरू करने से पहले पूल की जांच करते हैं. उन्होंने कहा, ‘आज, हमारे स्टाफ को इस ओलंपिक आकार के स्विमिंग पूल में मगरमच्छ का एक बच्चा मिला. विशेषज्ञों की मदद से इसे बचाया गया और वन विभाग को सौंप दिया गया.’

Read more:Shocking : समुद्र में डूबा 14 साल लड़का, भगवान गणेश की मूर्ति ने बचाई जान,सच्चाई जान चौक जायेंगे आप

पूल के एक अधिकारी ने बताया कि मगरमच्छ पास के एक निजी चिड़ियाघर से आया होगा. पहले भी ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं जब निजी चिड़ियाघर से सांप सड़कों पर आ गए थे, जिससे लोगों में दहशत फैल गई थी.

उधर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) नेता संदीप देशपांडे ने निजी चिड़ियाघर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है. देशपांडे ने पूछा, ‘यह निजी चिड़ियाघर अनधिकृत है. इससे पहले भी इसी चिड़ियाघर से सांप निकलकर लोगों में दहशत फैला चुके हैं. इन सरीसृपों और जानवरों के लोगों पर हमला करने या इन सरीसृपों और जानवरों के सार्वजनिक रूप से घायल होने के लिए कौन जिम्मेदार होगा? इस निजी चिड़ियाघर को इन जानवरों को रखने की अनुमति किसने दी है? उन पर किसका राजनीतिक प्रभाव है?’

Read More:shocking : पेरिस व्हील झूले पर लड़की के साथ हुई दिल दहला देने वाली घटना,जानकर उड़ जायेंगे होश

उन्होंने मीडिया को आगे बताया कि निजी चिड़ियाघर उस जमीन पर बना है जो बीएमसी की है. उन्होंने कहा, ‘कई बार इस स्विमिंग पूल के अधिकारियों की शिकायत अथॉरिटी से होती रही है. इस प्राइवेट चिड़ियाघर की हालत देखें तो वाकई बहुत खराब है. ऐसे में वन विभाग कोई कार्रवाई क्यों नहीं कर रहा है?’ देशपांडे के आज बीएमसी आयुक्त इकबाल सिंह चहल से मुलाकात करने और मनसे नेताओं के प्रतिनिधिमंडल के साथ इस मुद्दे को उठाने की संभावना है.

Related Articles

Back to top button