shocking : बाढ़-बारिश से 55 की मौत, 10 हजार करोड़ के नुकसान की आशंका

shocking : हिमाचल में हो रही भारी बारिश के बीच से तबाही भरे खबर आ रहे हैं. बादल फटने तथा भूस्खलन से अब तक 55 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई लोग लापता हो गये हैं। वही इस बीच अब 10 हजार करोड़ से अधिक के नुकसान होने की खबर आ रही है.

राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र के अनुसार आपदा के कारण राज्य में 752 सड़कें बंद हैं। कालका-शिमला रेल मार्ग बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। जगह-जगह बादल फटने और भूस्खलन से अब 55 लोगों की मौत हो चुकी है। करीब 30 लोग मलबे में दबने और बहने से लापता हैं। मंडी जिले में 18, राजधानी शिमला में 14, सोलन में 11, कांगड़ा-हमीरपुर में क्रमशह 3-3, चंबा और सिरमौर में क्रमश: एक-एक व्यक्ति की जान गई है।

Read More : Shocking : विश्व का सबसे अमीर भिखारी : करोड़ो-अरबो है संपत्ति, भीख मांग कर करता है कमाई, आमदनी जानकर उड़ जाएंगे होश

shocking : हिमाचल में भारी बारिश से हुए नुकसान के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर दुख जाता है। वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद प्रतिभा सिंह ने प्रदेश में भारी बारिश और बाढ़ से हो रहे नुकसान पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने लोगों से आपदा में सतर्क और सुरक्षित रहने का आग्रह किया हैं। उन्होंने मंडी, शिमला और दूसरे स्थानों में भारी बारिश के चलते हुए भूस्खलन से हुई दर्दनाक मौतों पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिवारों से संवेदना प्रकट की हैं। उन्होंने शिमला के समरहिल में मंदिर के भूस्खलन से श्रद्धालुओं की दबने से हुई मौतों पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्माओं की शांति की प्रार्थना भगवान से की हैं। उन्होंने फागली, सायरीघाट, अर्की समेत प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में हुए जानमाल और दर्दनाक मौतों पर भी गहरा दुख प्रकट किया है।

shocking : शिमला के फागली में भूस्खलन और पेड़ गिरने के कारण पांच लोगों की मौत हुई है। आठ लोग घायल हुए हैं। आपदा प्रभावित लोगों को संस्कृत कॉलेज फागली में ठहराया गया है। प्रदेश में भारी बारिश से हुए जानमाल के नुकसान के दृष्टिगत स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राजभवन में आयोजित किए जाने वाले ‘एट होम कार्यक्रम’ को रद्द कर दिया गया है। राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने भूस्खलन के चलते प्रदेश के कई क्षेत्रों में हुई लोगों की मौत के चलते यह फैसला लिया है।

Read More : shocking News : 20 मिनट में पी डाला 3 लीटर पानी, मौके पर ही हुई मौत

मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने आपात बैठक बुलाई है। शिमला स्थित सचिवालय में बैठक हो रही है। बैठक में प्रदेशभर में भारी बारिश से हुई तबाही को देखते हुए बड़े फैसले लिए जा सकते हैं। शिमला के समरहिल में पेड़ के नीचे से एक और शव को निकाला गया है। राजधानी शिमला में मृतकों की संख्या 14 हो गई है। प्रदेश में अब तक 55 की मौत हो गई है।

Read More : shocking : फांसी का फंदा कैसे लगाते हैं, कितना होता है दर्द और कितनी देर में होती है मौत? सवालों का जवाब जानने 14 साल के बच्चे ने की आत्महत्या,सदमे में माता-पिता…

shocking : मौसम विज्ञान केंद्र शिमला की ओर से प्रदेश के लिए बहुत भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। हालांकि, सुबह जारी हुए मौसम बुलेटिन में ऑरेंज अलर्ट था। लेकिन, दोपहर बाद इसे रेड कर दिया। पंद्रह अगस्त के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। प्रदेश के कई भागों में 20 अगस्त तक बारिश का दौर जारी रहने की संभावना है।

Read MOre : Shocking! बॉलीवुड के लिये आई एक और बुरी खबर, फिल्म के आर्ट डायरेक्टर ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, कारण जानकर चौक जाएँगे

shocking : हिमाचल प्रदेश में सोमवार को भारी बारिश के रेड अलर्ट के बीच राज्य में जगह-जगह बादल फटने और भूस्खलन से अब 37 लोगों की मौत हो चुकी है। करीब 30 लोगों की मलबे में दबने होने की आशंका है। राजधानी शिमला में 13, सोलन में 10, हमीरपुर में 3, मंडी में 7, कांगड़ा में 2, चंबा और सिरमौर में 1-1 लोगों की जान गई है। शिमला, सोलन, कांगड़ा में एक-एक और मंडी में दो जगह बादल फटे हैं। शिमला में 15, मंडी में आठ और सिरमौर में एक लापता है। कई ऐसे इलाके हैं जहां कितना नुकसान हुआ है, कितने लोगों की जान चली गई इसकी जानकारी ही नहीं मिल पाई है। प्रदेश सरकार ने 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस पर होने वाले सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। केवल रस्मी तौर पर ही तिरंगा फहराएंगे।

Related Articles

Back to top button