Shocking : हस्यमय परिस्थितियों में एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत,घर की महिलाओं ने ही रची हत्या की साजिश,ऐसे हुआ खुलासा

Shocking  : महाराष्ट्र के Gadchiroli में एक ही परिवार के 5 लोगों की 20 दिनों के भीतर रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई। इस मामले को लेकर जांच में हैरान करने वाले खुलासे हुए हैं। एक ही परिवार की 2 महिलाओं की ओर से हत्या की साजिश का खुलासा हुआ है। इन दोनों को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपियों में से एक संघमित्रा है जो अपने पति और ससुराल वालों से परेशान थी। दूसरी महिला का नाम रोजा है जो संपत्ति विवाद को लेकर नाखुश थी।

Read More:Viral : कार की Sunroof पर बैठ कपल ने की बेशर्मी की सारी हदें पार,सड़क पर खुलेआम एक दूसरे को किस करते आये नजर

रिपोर्ट के मुताबिक, इन दोनों महिलाओं ने परिवार के सदस्यों को जहर देने के लिए आर्सेनिक (रंगहीन, गंधहीन और स्वादहीन भारी धातु) का इस्तेमाल किया। 20 सितंबर को शंकर कुंभारे और उनकी पत्नी विजया की तबीयत खराब हुई, जिनमें फूड पॉइजनिंग के लक्षण पाए गए। इनकी सेहत तेजी से बिगड़ने लगी। दोनों को शरीर में दर्द का अनुभव हुआ और बाद में हृदय संबंधी समस्याएं भी हुईं। इन्हें पहले अहेरी के स्थानीय अस्पताल में लेकर जाया गया। इसके बाद चंद्रपुर और नागपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। शंकर की 26 सितंबर और उनकी पत्नी की एक दिन बाद मौत हो गई।

Read More:Rakhi Sawant का इंटरव्यू वायरल,कहा मुझे किसी प्रोड्यूसर का बिस्तर गर्म करने…

मेडिकल ऑफिसर ने जताया जहर देने का संदेह
यह परिवार अभी शोक मना ही रहा था कि उनके बच्चों (बेटियां कोमल और आनंद, बेटा रोशन कुंभारे) की भी तबीयत खराब हो गई। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया। हर गुजरते दिन के साथ उनकी हालत और बिगड़ने लगी। इसके बाद कोमल की 8, आनंद की 14 और रोशन कुंभारे की 15 अक्टूबर को मौत हो गई। अपने परिवार के सदस्यों की मृत्यु के बारे में सुनकर शंकर कुंभारे के सबसे बड़े बेटे सागर के होश उड़ गए। वह दिल्ली से तुरंत चंद्रपुर पहुंचे। घर लौटने के बाद वह भी बीमार पड़ गया। इतना ही नहीं, कुंभारे के ड्राइवर राकेश मडावी की भी तबीयत खराब हुई जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टर्स ने बताया कि फिलहाल इन लोगों की हालत स्थिर है। मेडिकल ऑफिसर को संदेह हुआ कि पीड़ितों और बीमार लोगों को जहर दिया गया था। इसे देखते हुए महाराष्ट्र और तेलंगाना के विभिन्न जिलों में पूछताछ के लिए 4 टीमें गठित की गईं। इस तरह जांच के दौरान संदिग्धों से पूछताछ में पूरे मामले का खुलासा हो गया।

Related Articles

Back to top button