Railway Employees : रेलवे कर्मचारियों को बहुत जल्द मिलने वाली है खुशखबरी, बोनस बढ़कर खाते में आएंगे 46,159 रुपये

Railway Employees : भारतीय रेलवे के लाखों कर्मचारियों को बहुत जल्द खुशखबरी मिलने वाली है. सरकार रेलवे के कर्मचारियों के लिए दिवाली बोनस का एलान बहुत जल्द कर सकती है. दिवाली बोनस के रूप में कर्मचारियों को हर साल उनके 78 दिन के वेतन के बराबर राशि दी जाती है. ये प्रोडक्टिविटी लिंक्ड बोनस (PLB) प्रोडक्टिविटी और मोटिवेशन बढ़ाने के लिए रेलवे के सभी गैर-राजपत्रित कर्मचारियों (Group C और Group D) को दिया जाता है. हालांकि इस साल भारतीय रेलवे कर्मचारी महासंघ (IREF) ने रेलवे को पत्र लिखकर अपने PLB को बढ़ाने की मांग की है.

Read More:Salary Hike : त्योहार से पहले कर्मचारियों के वेतन में हुआ बड़ा इजाफा, अक्टूबर से होगी प्रभावी

7वें वेतन आयोग पर मिले PLB

REF ने अपने लेटर में कहा है कि हालांकि, रेलवे ने 1 जनवरी 2016 को 7वें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू कीं, फिर भी PLB की गणना और भुगतान छठे वेतन आयोग द्वारा निर्धारित न्यूनतम वेतन के आधार पर किया गया है. छठे वेतन आयोग में ग्रुप डी कर्मचारियों को न्यूनतम वेतन केवल 7000 रुपये दिया गया था, जबकि 7वें वेतन आयोग में इसे बढ़ाकर 18,000 रुपये कर दिया गया.

Read More;Salary Hike : कर्मचारियों के घर लौटी ताबड़तोड़ खुशियाँ! एक झटके में बढ़ने जा रही हजारों रुपए सैलरी

कर्मचारियों को होगा इतना फायदा

फेडरेशन के मुताबिक, ग्रुप सी और ग्रुप डी के सभी कर्मचारियों को केवल 17,951 रुपये मिलते हैं, जिसकी गणना न्यूनतम मासिक वेतन 7000 रुपये के आधार पर की जाती है. उनकी मांग है कि 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत न्यूनतम वेतन मानते हुए इसे बढ़ाकर 46,159 रुपये किया जाए.

कोरोना काल में डटकर किया मुकाबला

फेडरेशन ने अपने पत्र में कहा, “कोविड-19 के दौरान, जब देशव्यापी लॉकडाउन लगाया गया था और लोग अपने घरों से बाहर निकलने से डर रहे थे, तब रेलवे कर्मचारियों ने अपनी जान जोखिम में डालकर ट्रेनों का संचालन जारी रखा, भले ही उन्हें बेहद प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करना पड़ा.”

Read More:DA Hike : कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर,खाते में आएंगे 56800 तक रुपए, हाई कोर्ट का बड़ा फैसला,2016 से होगा DA-वेतनमान का भुगतान

कर्मचारियों में असंतोष

फेडरेशन ने कहा कि रेलवे ने अपने ऑपरेशन में नया कीर्तिमान बनाया है. इससे रेलवे की इनकम भी बढ़ी है. रेलवे ने खुद इसे अपने तिमाही बुलेटिन में स्वीकार किया है. फेडरेशन ने कहा है कि PLB के मुद्दे को लेकर कर्मचारियों में काफी असंतोष है और बोर्ड को जल्द से जल्द इस मुद्दे का समाधान करना चाहिए.

पिछले साल अक्टूबर में रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) ने PLB की घोषणा करते हुए कहा था कि 11.27 लाख अराजपत्रित रेलवे कर्मचारियों को बोनस से फायदा होने की संभावना है. इसमें रेलवे कर्मचारियों को 78 दिनों के पीएलबी के भुगतान को लेकर सरकार पर 1832.09 करोड़ रुपये के भार का अनुमान लगाया गया. पीएलबी के भुगतान के लिए निर्धारित वेतन गणना सीमा 7,000/- रुपये प्रति माह है. प्रति पात्र रेलवे कर्मचारी को इसमें अधिकतम राशि 78 दिनों के लिए 17,951 रुपये देय होती है.

Related Articles

Back to top button