kuber ka khajana : गरीब परिवार को मिला 7 करोड़ का सोना, अब परिवार कह रहा- न मिलता तो बेहतर, जानें क्या है पूरा मामला

kuber ka khajana : एक या दो नहीं। पूरे 240 सिक्के। सब सोने के। भारत में कीमत 1 करोड़ 56 लाख और इंटरनेशनल मार्केट में 7 करोड़ 20 लाख रुपए। मिले भी तो किसी धन्ना सेठ को नहीं। मध्यप्रदेश के एक मजदूर परिवार को। अब ये परिवार सदमे में है। इस परिवार का कहना है सारे सिक्के पुलिसवालों ने लूट लिए। अब कुछ नहीं बचा। एक सिक्का बचा था वो दे दिया। सिक्का मिला था गुजरात के वलसाड़ में, इसलिए अब गुजरात पुलिस की भी एंट्री हो चुकी है। जिन्हें सिक्का मिला उन्हें तफ्तीश के लिए गुजरात ले गई। मध्यप्रदेश में चार पुलिसवालों पर एफआईआर हो चुकी है और टीआई को सस्पेंड कर दिया गया है।

Read More : Todays Gold Price : सोना खरीदने का गोल्डन चांस, 35000 से भी पहुंचा नीचे, सोना अभी नहीं तो कभी नहीं

जिला मुख्यालय से करीब 50 किमी दूर है आलीराजपुर जिले के सोंडवा ब्लॉक का गांव बेजड़ा। हरी-भरी पहाड़ियों के बीच बसे इस गांव में जब हम पहुंचे तो ऐसा लगा जैसे कुदरत ने यहां के लोगों को शहरी भागदौड़ से दूर बेहद सुकून की जिंदगी दी है, लेकिन जैसे-जैसे हम आगे बढ़े। हमारी ये सोच हवा हो गई। यहां पुलिसकर्मियों की आवाजाही तेज है। यहां के लोगों के चेहरे पर भी सुकून की जगह हवाइयां उड़ रही हैं।

kuber ka khajana : वजह भी साफ है। यहीं पास में है दगड़ा फलिया। निमाड़ी में पत्थर को दगड़ा कहते हैं, लेकिन इस दगड़ा में एक दिन पहले एक घर से सोना मिलने के मामले ने तूल पकड़ा है। आदिवासी महिला रमकु पति बंशी ने बताया था कि गुजरात के नवसारी जिले के बीलीमोरा में मजदूरी के दौरान उसे 240 सिक्के मिले। जिसे वो अपने साथ गांव लेकर आए थे।

Read More : Urfi Javed ने की Suicide, फंदे से लटकी मिली शव, जानें क्या है पूरा मामला

कुछ दिन पहले एक ज्वेलर से जांच कराने पर पता चला कि ये सिक्के सोने के हैं और काफी पुराने हैं। इसके बाद घर में चार पुलिसवाले आए और सिक्के लूटकर ले गए। रमकु बाई और उसके पति को गुजरात पुलिस लेकर गई है, इसलिए वो फिलहाल घर में नहीं मिले।

रमकु के भतीजे शिवम ने बताया कि परिवार में 10 से 12 सदस्य हैं, लेकिन इसकी खबर किसी को कानों कान नहीं थी। 19 तारीख को जब पुलिसकर्मी महिलाओं के साथ बदसलूकी कर डरा-धमकाकर सोने के सिक्के निकालकर ले गए उसके बाद ही हमें इस बात की जानकारी मिली कि हमारे घर में इतना सारा सोना था। शिवम आगे बताते हैं कि पिछले साल दिसंबर माह के करीब मेरे बड़े भाई, भाभी, काका और काकी मजदूरी करने के लिए गुजरात राज्य के वलसाड़ गए थे। फरवरी माह में मेरी दादी का देहांत हो गया जिसकी खबर लगने के दूसरे दिन सभी परिजन घर लौट आए। उसी दौरान यह सोने के सिक्के वहां से लेकर आए थे।

रमकु के देवर का कहना है कि यह सिक्के हम कहीं चोरी करके या लूटपाट करके नहीं लाए हैं। यह तो हमारा नसीब है। जो हमें नसीब से धन प्राप्त हुआ था, लेकिन कुछ लुटेरे पुलिसकर्मियों ने हमारे सपनों को चकनाचूर कर दिया। हमारे परिजन को सही सलामत घर तक छोड़ा जाए। इतनी परेशानी देखकर तो लगता है कि सिक्के ना ही मिलते तो अच्छा रहता।

Read More Karodo Ka Khajana : बाथरूम की दीवार में प्लंबर को गड़ा मिला करोड़ों का ‘खजाना’! लौटाकर रातोंरात बन गया अमीर

एसपी हंसराज सिंह ने बताया कि आदिवासी महिला द्वारा लाए गए सिक्के की आलीराजपुर लाकर एक ज्वेलर से जांच कराई तो वह सोने का निकला। सिक्?के पर जॉर्ज-5 लिखा हुआ है और यह भारत की आजादी से पहले वर्ष 1922 में ब्रिटिश हुकूमत ने जारी किया था। अगर महिला का दावा सही है तो 240 सिक्कों की भारतीय कीमत 1 करोड़ 56 लाख रुपए होती है, जबकि इंटरनेशनल मार्केट में सभी सिक्कों की कीमत 7 करोड़ 20 लाख रुपए आंकी जा रही है। इस सिक्के को आखिरी बार 1922 में ही जारी किया गया था। इनकी टकसाल भी भारत में नहीं थी।

एसपी का कहना है कि फरियादी पक्ष के लोगों को लेकर पुलिस मौके पर गई है, जहां पर खुदाई में सोने के सिक्के मिले थे। साथ ही उस परिवार का रिकॉर्ड भी खंगाला गया है जिसमें 1950 तक का रिकॉर्ड हमें मिल चुका है। इससे यही सिद्ध होता है कि उनका परिवार आजादी के पूर्व से ही पैसों के मामले में संपन्न रहे हैं। दो भाइयों का परिवार था। एक भाई के परिवार के कुछ लोग विदेश चले गए हैं और कुछ मर चुके हैं। वहीं दूसरे भाई की औलाद जुआरी थी। वह यहीं रुक गई और उसका परिवार आज वहां पर मकान बनाकर रह रहा है। यही शब्बीर भाई बलियावाला हैं, जिनके घर सोना मिलने की बात कही जा रही है। विस्तार से जांच की जा रही है। पुलिसकर्मियों की भूमिका की भी जांच कर रहे हैं।

Read More : ED SCAM : तहखाने ने उगले 250 करोड़, बेडरुम में छुपा था तहखाने का रास्ता

एसडीओपी श्रद्धा सोनकर ने बताया कि जिन चार पुलिसवालों पर सोने के सिक्के लूटने का आरोप है वो फिलहाल फरार हैं। उनकी तलाश कर रहे हैं। अब तक जो कहानी सामने आई है, उसके हिसाब से 240 सिक्के उनके पास होने चाहिए, लेकिन सिक्के उनके पास है या नहीं ये उनकी गिरफ्तारी और पूछताछ के बाद ही पता चलेगा।

Related Articles

Back to top button