Korba Breaking : फर्जी पत्रकार बनकर वसूली करने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कोरबा/कटघोरा : Korba Breaking : कोरबा और गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले में फर्जी और वसुलीबाज पत्रकारों की बाढ़ सी आ गई है अब इसी कड़ी में कटघोरा थाना क्षेत्र में एक फर्जी पत्रकार के ऊपर पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए जेल दाखिल किया है। बता दें की कटघोरा थाना क्षेत्र के कसनिया निवासी पुनीत दुबे अपने आपको पत्रकार बताया करता था साथ ही पुनीत दुबे द्वारा खनिज अधिकारी बनकर कई ट्रैक्टर चालको से हज़ारों रुपये की अवैध वसूली करने की शिकायत कटघोरा थाना को मिली थी। जिसके बाद कटघोरा पुलिस ने पुनीत दुबे को थाना तलब किया था। पुनीत दुबे थाना आकर प्रार्थी को पैसा वापस करने की बात भी कही थी जिसका वीडियो भी वायरल हुआ था। इसके बाद से पुनीत दुबे फरार चल रहा था।

कटघोरा पुलिस पुनीत दुबे की तलाश में लंबे समय से पतासाजी कर रही थी। जहां बीती रात मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई की पुनीत दुबे कसनिया में अपने घर पर है। कटघोरा थाना प्रभारी तेज़ कुमार यादव के निर्देश पर पुलिस टीम को भेजकर पुनीत दुबे के घर पर दबिश दी। मौके पर पुनीत दुबे के पाए जाने पर पुलिस ने आरोपी पुनीत दुबे को गिरफ्तार कर लिया। कटघोरा पुलिस ने फर्जी पत्रकार पुनीत दुबे पर धारा 384 पर मामला दर्ज कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया है।

Read More : KORBA BREAKING : कोरबा में कापी धरती, महसूस किये गये भूकंप के झटके, इलाके में दहशत का माहौल

Korba Breaking : बता दें की इस तरह के फर्जी पत्रकार खबरों की जगह ब्लैकमेलिंग और अवैध वसूली की जुगाड में घूमते रहते हैं। पुलिस थाने, ब्लॉक ऑफिस, आरटीओ ऑफिस, नगर निगम जैसे कार्यालयों में दलाल बनें ये फर्जी पत्रकार घूमते रहते हैं और खबरें प्रसारित करने की धमकी देकर वसूली करते हैं। शासन प्रशासन ऐसे फर्जी पत्रकारों से परेशान है। ये सरकार की छवि धूमिल कर रहे हैं। इन लोगों की वजह से सही और शरीफ लोगों का जीना मुहाल हो रहा है।

Korba Breaking : पत्रकारिता की आड़ में लोगों को डराना, धमकाना, वसूली करना, मानसिक शोषण करना इनका धंधा बन चुका है। ये समस्या सिर्फ कटघोरा की ही नहीं बल्कि पूरे जिले के साथ साथ प्रदेश में खड़ी होती जा रही है। फर्जी पत्रकारों की संख्या और आतंक बढ़ता ही जा रहा है। इन पर अविलंब नकेल कसे जाने की जरुरत है।

Related Articles

Back to top button