IMD : मानसून की विदाई के साथ गुलाबी ठंड ने दी दस्तक,जानिए केसा रहेगा अक्टूबर का महीना

IMD : देशभर में मौसम ने एक बार फिर करवट लेना शुरू कर दिया है, जहां एक ओर उत्तर भारत के राज्यों में सुबह और शाम के तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है. वहीं, पूर्वोत्तर में बाढ़ का कहर देखने को मिल रहा है. हालांकि मौसम विभाग की माने तो अभी ठंड ने दस्तक तो दे दी है, लेकिन इसका असर उन्हीं राज्यों में देखने को मिलेगा जहां बारिश होने की आशंका जताई जा रही है या जहां बारिश हो रही है. बाकी राज्यों में अक्टूबर सामान्य से गर्म रहने वाला है.

Read More:शेरनी बनकर अपने दुश्मनों पर Sushmita Sen ने किया वार,सच्चई जानने फैन्स का बढ़ा एक्साइटमेंट

नॉर्थ वेस्ट इंडिया से जा चुका है मॉनसून
मौसम वैज्ञानिक डॉ सोमा सेन रॉय ने बताया कि अब मॉनसून नॉर्थ वेस्ट इंडिया से जा चुका है, नॉर्थ वेस्ट इंडिया के अलावा सेंट्रल इंडिया जैसे मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के काफी हिस्सों में अब बारिश के कोई आसार नहीं है. मौसम के ड्राई होने की वजह से ठंड धीरे-धीरे दस्तक देने लगी है. हालांकि लद्दाख में एक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस होने की वजह से कुछ राज्यों में बारिश के आसार देखने को मिल सकते हैं. पहाड़ी इलाकों में 8 और 9 अक्टूबर को बारिश होने की संभावना है. इसके अलावा हरियाणा, पंजाब में भी हल्की फुल्की बूंदाबांदी के साथ बारिश देखने को मिलेगी.

Read More:Ranveer Kapoor के बाद Shraddha Kapoor से ED करेगी पूछताछ, बॉलीवुड के इन कलाकारों को भी भेजा समन

8, 9 अक्टूबर को बढ़ेगी उमस
मौसम विभाग की मानें तो आने वाले 4 से 5 दिनों तक ज्यादातर सभी राज्यों में मौसम साफ रहेगा यानी आसमान साफ रहेगा और बारिश के आसार नहीं रहेंगे, लेकिन 8 और 9 अक्टूबर को थोड़ी सी उमस बढ़ सकती है जिससे लोगों को गर्मी का एहसास होगा लेकिन तापमान में सिर्फ 1 से 2 डिग्री की बढ़त ही होगी. वहीं, अगर नॉर्थ ईस्ट की बात करें तो असम, मेघालय में बारिश होने के आसार हैं, लेकिन ज्यादातर राज्यों में मौसम साफ रहने वाला है और धीरे-धीरे तापमान बढ़ने के साथ सर्दी का आगमन हो जाएगा.

सिक्किम में बाढ़ से तबाही
सिक्किम में बारिश और बाढ़ ने तबाही मचा दी है. दरअसल, नॉर्थ ईस्ट इंडिया और बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक लो प्रेशर बना हुआ था जो अब बंगाल की खाड़ी से होता हुआ निकल चुका है, ये लो प्रेशर सिस्टम अब कमजोर हो चुका है. दरअसल जब ये लो प्रेशर बंगाल के ऊपर था तब तेज हवाओं ने इसका रुख बदला और ये नॉर्थ ईस्ट की तरफ जाने लगा. वहां हिमालय के पर्वतों से टकरा गया और इसी वजह से बारिश का कहर देखने को मिला, लेकिन फिलहाल मेघालय और असम में ही बारिश के आसार बने हुए हैं.

 

अक्टूबर रह सकता है गर्म
मौसम विभाग की मानें तो अक्टूबर महीने में ठंड की दस्तक तो हो चुकी है लेकिन तापमान कम नहीं होने वाला है, यानी जिन राज्यों में बारिश होगी या जहां बारिश के आसार हैं वहां तापमान सामान्य से थोड़ा कम होगा, लेकिन जहां बारिश नहीं हो रही है वहां तापमान बढ़ जाएगा. यानी नॉर्थ वेस्ट, नॉर्थ और सेंट्रल इंडिया में तापमान में बढ़ने की संभावना होगी लेकिन दक्षिण और पूर्वोत्तर भारत में तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी.

Related Articles

Back to top button