अगर आप भी करते है Digene Syrup का इस्तेमाल ,तो हो जायें सावधान ,DCGI ने इस्तेमाल पर लगाई रोक

Digene Syrup: अगर आप एसडिटी-गैस, पेट में जलन या पेट दर्द जैसी कंडीशन में बिना सोचे डाइजीन जेल सिरप पी जाते हैं तो जरा ध्यान दीजिए. ड्रग्स कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) की तरफ से डाइजीन जेल सिरप के खिलाफ डॉक्टर्स को एक एडवाइजरी अलर्ट जारी किया गया है. इस अलर्ट के जरिए डाइजीन जेल के इस्तेमाल पर रोक लगाने और सिरप बनाने वाली कंपनी को बाजार में उपलब्ध दवा को वापस लेने का निर्देश दिया गया है. एक ग्राहक की शिकायत के बाद यह एक्शन लिया गया है.

ड्रग्स कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया की ओर से डॉक्टर्स ने कहा गया है कि वे अपने मरीजों को इस प्रोडक्ट को इस्तेमाल न करने की सलाह दें और अगर कोई रिएक्शन इसकी वजह से हो रहा है तो उसको रिपोर्ट करने के लिए कहें. अगर डॉक्टर्स को कोई संदिग्ध केस मिलता है तो उसकी जानकारी तुरंत दें.

Read More:Singer B Praak के नवजात बच्चे का हुआ निधन, दिल तोड़ने वाले भावुक नोट में कहा- हम बिखर गए

वहीं ड्रग्स कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया की ओर से मरीजों के लिए कहा गया कि वह इस कंपनी की उस डाइजीन सिरप का इस्तेमाल बिल्कुल भी न करें, जिसको गोवा फैसिलिटी में तैयार किया गया हो.

वहीं डीसीजीआई ने होलसेलर और डिस्ट्रीब्यूटरों से कहा है कि जो भी प्रोडक्ट गोवा की कंपनी से बनकर आया है, उसे तुरंत वापस कर दें. किसी भी मरीज को ऐसा प्रोडक्ट नहीं बेचा जाए.

वहीं डीसीजीआई ने राज्य/केंद्रशासित प्रदेश/जोनल और उप-जोनल अधिकारियों को बाजार में इस प्रोडक्ट की आवाजाही, बिक्री, वितरण, स्टॉक पर कड़ी निगरानी रखने, अगर प्रोडक्ट बाजार में है तो उसके नमूने लेने और ड्रग्स-कॉस्मेटिक एक्ट और नियम के मुताबिक, जरूरी कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया है.

Read More:Petrol-Diesel की कीमतों को लेकर आया बड़ा अपडेट, जानें अपने शहर का भाव

क्या है पूरा मामला?
डाइजीन सिरप खरीदने वाले एक शख्स ने 9 अगस्त 2023 को शिकायत करते हुए बताया था कि डाइजीन जेल मिंट फ्लेवर की एक बोतल सामान्य स्वाद (मीठा) और हल्के गुलाबी रंग की है, जबकि उसी बैच की एक अन्य बोलत का स्वाद कड़वा है. साथ ही उसमें तीखी गंध व उसका रंग भी सफेदी पर है. ग्राहक की शिकायत के बाद सिरप बनाने वाली कंपनी एबॉट ने 11 अगस्त को डीसीजीआई कार्यालय को बताया कि वह अपना प्रोडक्ट बाजार से वापस ले रही है.

क्या बोली कंपनी 
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एबॉट कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि, ”भारत में एबॉट ने स्वाद और गंध पर ग्राहकों की अलग-अलग शिकायतों की वजह से गोवा फैक्ट्री में बनी डाइजीन जेल एंटासिड दवा को वापस लेने का फैसला किया है. अभी तक किसी भी मरीज में कोई चिंता की स्थिति की रिपोर्ट सामने नहीं आई है.

Related Articles

Back to top button