Fraud : बैंक ऑफ इंडिया के शाखा प्रबंधक सहित तीन गिरफ्तार,मुद्रा लोन योजना में करोड़ों की ठगी का मामला, ऐसे दिया ठगी को अंजाम

Fraud : उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में मुद्रा लोन योजना में करोड़ों की ठगी करने वाले बैंक ऑफ इंडिया के शाखा प्रबंधक सहित तीन को पुलिस ने अरेस्ट किया है। भोले-भाले किसानों, दुकानदारों को नौकरी के नाम पर 5 से 10 हजार रुपये महीने देने का झांसा देकर बैंक में खाता खुलवा कर लोन कर देते थे। लोन मंजूर होने से पहले ही विड्राल फार्म पर खाता धारक के हस्ताक्षर करवा लेते थे। जिसके बाद लोन की रकम बंदरबाट कर हड़प लेते थे। पुलिस ने इनके कब्जे से दो लग्जरी कार, आई फोन के साथ 2060 रुपये बरामद किए हैं।

लखनऊ के गोमती नगर निवासी मास्टरमाइंड सुरेश मधु रावत लोगों को नौकरी का झांसा देकर बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से फर्जीवाड़े के खेल को अंजाम दे रहा था। लखनऊ के ही निवासी सहायक बैंक प्रबंधक शैलेंद्र प्रताप पंकज और सुरेश मधु पहले से परिचित थे। जैदपुर थाना क्षेत्र के बैंक ऑफ इंडिया बरौली शाखा में तैनात रहे लखनऊ चिनहट निवासी बैंक मैनेजर अमन वर्मा के साथ मिलकर ठगी का खेल शुरू किया।

Read more:Fraud : शराब ठेकेदार और क्षेत्रीय बैंक प्रबंधक ने फर्जी बैंक गारंटी बनाकर किया करोडो का Fraud :,आरटीआई द्वारा हुआ खुलासा

सफाई कर्मचारियों, बेरोजगारों को बनाया निशाना

रविवार को एएसपी अखिलेश नारायण सिंह ने खुलासा किया। उन्होंने बताया कि शातिर आरोपी सुरेश मधु गांव कस्बों में लोगों को सरकारी योजनाओं के नाम पर और विभिन्न कंपनियों में नौकरी दिलाने का झांसा देता था। वेतन बैंक खाते में आने की बात कहकर बैंक भेजता था। जहां सहायक प्रबंधक शैलेंद्र प्रताप पंकज सादे स्टाम्प, आधार कार्ड, केवाईसी से सम्बन्धित फार्म, लोन एप्लिकेशन फार्म, सादे कागजों और विड्राल फार्म पर लोगों के लोन करने से पहले हस्ताक्षर करवा लेते थे। जिसके बाद लोन की रकम विड्राल के जरिए निकाल ली जाती थी। धोखाधड़ी के खेल में 10 सफाई कर्मियों को भी निशाना बनाया था।

Read More:Fraud : बाप-बेटे ने किया PNB से 12.62 करोड़ का फ्रॉड, जानिए पूरा मामला

फर्जी लोन होने पर पीड़ितों ने की थी शिकायत

घुंघटेर थाना क्षेत्र के मूलचन्द्र, थाना हैदरगढ़ क्षेत्र निवासी राहुल, सतरिख थाना क्षेत्र निवासी राजकुमार भारती और इनकी पत्नी पूजा, मोहित, आकाश, शिवशंकर, सूरज शर्मा, प्रदुम्न कुमार, अंकित, राहुल, मस्तराम, रामू ने जैदपुर थाने में फर्जी लोन होने की शिकायत दर्ज कराई थी। एएसपी ने अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि जैदपुर क्षेत्र में बैंक ऑफ इंडिया की बरौली शाखा के तत्कालीन बैंक मैनेजर अमन वर्मा, सहायक प्रबंधक शैलेंद्र प्रताप पंकज के खिलाफ जैदपुर थाने में धोखाधडी, षड्यंत्र, धमकाने समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज हैं। जांच में ढाई करोड़ रुपये का फ्रॉड समाने आया है। आरोपियों को जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है। इसके अलावा बैंक के अन्य ब्रांचों में रहने दौरान इनके साथ फर्जीवाड़े में शामिल आरोपियों की जांच की जा रही है।

Related Articles

Back to top button