Patalkot Express में लगी आग,गेटमैन की समझदारी से टला बड़ा हादसा

Patalkot Express : उत्तर प्रदेश के आगरा में रेलवे क्रॉसिंग पर पर एक गेटमैन की सूझबूझ से बड़ा हादसा (Agra Train Fire) टल गया. अगर गेटमैन यशपाल सिंह ने मुस्तैदी और सूझबूझ से काम नहीं लिया होता तो Patalkot Express के डिब्बों में लगी आग भयंकर हादसे में तब्दील हो जाती. बधवार को भांडई स्टेशन के पास एक रेलवे क्रॉसिंग पर तैनात गेटमैन यशपाल ने देखा कि ट्रेन के इंजन के चौथे कोच से धुआं निकल रहा है और ट्रेन के भीतर किसी को भी इस बात की कोई जानकारी ही नहीं थी. उन्होंने इस घटना की सूचना तुरंत उच्चाधिकारियों को दी. गेटमैन यशपाल ने तुरंत भांडई स्टेशन के उप स्टेशन अधीक्षक हरिदास को फोन किया और इंजन के कोच से धुआं निकलने की जानकारी दी. घटना का पता चलते ही हरिदास ने तुरंत कंट्रोल रूम को सूचित कर दिया. जिसकी वजह से समय रहते ही घटना पर काबू पा लिया गया.

Read More:TMKOC : चनिया-चोली पहने गरबा करने पहुंचींDisha Vakani, दया भाभी के साथ फोटो लेने के लिए बेचैन दिखे फैंस

गेटमैन की समझदारी से टला बड़ा हादसा

आगरा मंडल में इंटरनल कम्युनिकेशन की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया कि जब ट्रेन भांडई स्टेशन पहुंचने से पहले बुधवार दोपहर 3 बजकर 35 मिनट पर गेट से होकर गुजरी. इस दौरान यशपाल सिंह को  इंजन के चौथे कोच से धुआं निकलता हुआ दिखाई दिया. ट्रेन के अंदर किसी को भी इसकी जानकारी नहीं थी. यशपाल ने तुरंत उप स्टेशन अधीक्षक को कॉल किया और उन्होंने कंट्रोल रूम को इस बारे में सूचित कर दिया.  ट्रेन कंट्रोलर ने तुरंत ओएचई (ओवर हेड इक्विपमेंट) प्रभारी को अप और डाउन दिशाओं में सभी ट्रेनों की बिजली आपूर्ति बंद करने और उन्हें उनके संबंधित स्थानों पर रोकने का निर्देश दिया. इस सूझबूझ के लिए सीनियर अधिकारियों ने भी गेटमैन यशपाल सिंह की सराहना की. बता दें कि यशपाल सिंह साल 2021 से भांडई स्टेशन पर तैनात हैं.

Read More:Bollywood : 66 की उम्र में मॉडल के साथ ये हरकत करते पकड़े गये Boney Kapoor, अब ये सब शोभा नहीं देता…

भांडई स्टेशन पहुंचने से पहले ट्रेन के डिब्बों में लगी आग

सूत्रों के मुताबिक जब तक Patalkot Express दोपहर 3.37 बजे रुकी, तब तक वह भांडई स्टेशन क्रॉस कर चुकी थी. 10 मिनट के भीतर, फायर ब्रिगेड, एम्बुलेंस और स्पार्ट (सेल्फ प्रोपेल्ड एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन) को घटनास्थल पर पहुंचने के लिए कहा गया. इस बीच आग इंजन के तीसरे और चौथे दोनों डिब्बों को अपनी चपेट में ले चुकी थी. हालांकि, समय रहते सभी यात्रियों को बाहर निकाल लिया गया. रेलवे सुरक्षा बल के मुताबिक, शाम 5 बजकर 10 मिनट तक आग पर काबू पा लिया गया था. हालांकि इस घटना में 11 लोग मामूली रूप से झुलस गए, उनको इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है.

पूरी तरह से जल गए ट्रेन के दो डिब्बे

बता दें कि पालाकलोक एक्सप्रेस पंजाब के फिरोजपुर छावनी से मध्य प्रदेश के सिवनी की तरफ जा रही थी, तभी आगरा से करीब 10 किमी दूर भांडई के पास आग लग गई. आगरा रेलवे डिवीजन पीआरओ प्रशस्ति श्रीवास्तव ने कहा कि आग लगने का कारण तुरंत पता नहीं चला है. वहीं इस घटना में ट्रेन के दो डिब्बे पूरी तरह से जल गए हैं और दो डिब्बे प्रभावित हुए हैं, चारों डिब्बों को ट्रेन से अलग कर दिया गया है. स्थित अब कंट्रोल में है.

Related Articles

Back to top button