Election : राजनीतिक दल के नेता या प्रत्याशी मतदाताओं को लुभाने बांट रहे सोने के सिक्के,शराब की बोतल (पव्वा) और खैनी या सुरती और गांजे की पुड़िया

Election : इन दिनों पुरे देश पर चढ़ा है चुनावी बुखार,पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रहा है। मतदाताओं को लुभाने सभी राजनीतिक दल के नेता या प्रत्याशी अपनी एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं।बड़े-बड़े वादे की झड़ी लगा दी है । साथ ही उन्हें सोना का सिक्का से लेकर नकदी, शराब की बोतल (पव्वा) और खैनी या सुरती और गांजे की पुड़िया तक बांटी जा रही है। हम ऐसा इसलिए लिख रहे हैं क्योंकि ये सब चीजें सरकारी अधिकारी बरामद कर चुके हैं। सिर्फ इनकम टैक्स विभाग (Income Tax Department) के अधिकारियों ने ही इस चुनाव में करीब 1,000 करोड़ रुपये की नकदी बरामद की है। केंद्र सरकार या राज्य सरकार की दूसरी एजेंसियां भी सक्रिय हैं।

Read More:Cg Assembly Election : देर रात प्रत्याशियों ने जमकर खरीदे वोट, खेला नोट, चेपटी और चखना का खेल…

क्या क्या चीजें हो रही हैं बरामद

इनकम टैक्स विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया कि पहले तो सिर्फ नकदी ही बरामद होती थी। इस बार तो अजीब-अजीब चीजें बरामद हो रही हैं। उन्होंने मिजोरम के एक विधानसभा क्षेत्र का जिक्र करते हुए बताया कि वहां कई बोरी सरैसा खैनी बरामद की गई। सरैसा खैनी का उत्पादन बिहार के समस्तीपुर इलाके में होता है। खैनी के कद्रदां के बीच इसकी काफी पूछ होती है। यह आम सुरती या तंबाकू से महंगा भी बिकता है। तभी तो इसे वोटरों के बीच बांटने के लिए बिहार से पूर्वोत्तर तक ले जाया गया था। तेलंगाना में गांजे की पुड़िया बरामद की गई हैं। मतलब कि वहां के लौग खैनी नहीं बल्कि गांजे के ज्यादा शौकीन हैं।

Read More:Cg Assembly Election : देर रात प्रत्याशियों ने जमकर खरीदे वोट, खेला नोट, चेपटी और चखना का खेल…

कैश की तो बात ही मत पूछो

विभागीय अधिकारी बताते हैं कि इस बार विधानसभा चुनाव के दौरान तो कुछ ज्यादा ही नकदी बरामद हो रही है। अभी तक पांचों राज्यों में 1,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की नकदी बरामद हो चकी है। वह बताते हैं कि चुनाव के वक्त कैश के साथ साथ सोने का सिक्का, शराब की बोतलों आदि का भी उपयोग मतदाताओं को लुभाने में हो रहा है। राजस्थान का जिक्र करते हुए बताया कि एक स्थान पर कई किलो सोने के सिक्के पकड़े गए। इन सिक्कों का वजन एक ग्राम ही था। एक ग्राम सोना का भी बाजार मूल्य करीब छह हजार रुपये है। जाहिर है कि जिस भी परिवार में एक सिक्का पहुंच गया, उनका वोट मिलना तो तय है।

Related Articles

Back to top button