Dainik Panchang : कारोबार व वाहन की खरीददारी के लिये देखें आज का दैनिक पंचांग, शुभ मुहूर्त व खास योग बनाने जा रहे मालामाल

Dainik Panchang : आज कोई भी बिना पंचांग देखें शुभ कार्य नहीं करना चाहते हैं. चाहे दुकान, कारोबार की ओपनिंग हो या फिर फिर कोई भी खरीददारी हर कोई पंचांग देख कर ही शुभ कार्य करते हैं. अगर आप भी कारोबार की शुरुवात या फिर वाहन की खरीदारी करने जा रहे हैं. तो दैनिक पंचाग अवश्य देख लें.

Read More:Employees Salary : अतिथि शिक्षकों को सरकार ने दिया बड़ा तोहफा,दे रही वेतन-एक्स ग्रेशिया का लाभ,58 साल की उम्र तक मिलेगी सुविधा

27 अक्टूबर 2023, शुक्रवार

🇮🇳शक सम्वत- 1945
🇮🇳विक्रम सम्वत- 2080
🇮🇳मास- आश्विन
🌓पक्ष- शुक्लपक्ष
🗒तिथि- त्रयोदशी – 06:59 तक
🗒पश्चात्- चतुर्दशी – 28:19 तक
🌠नक्षत्र- उत्तरभाद्रपद – 09:25 तक
🌠पश्चात्- रेवती
💫करण- तैतिल – 06:59 तक
💫पश्चात्- गर
✨योग- हर्शण – 26:00 तक
✨पश्चात्- वज्र
🌅सूर्योदय- 06:29
🌄सूर्यास्त- 17:40
🌙चन्द्रोदय- 16:25
🌛चन्द्रराशि- मीन – दिनरात
🌞सूर्यायण – दक्षिणायन
🌞गोल- दक्षिणगोल
💡अभिजित- 11:42 से 12:27
🤖राहुकाल- 10:40 से 12:04
🎑ऋतु- हेमन्त
⏳दिशाशूल- पश्चिम

✍विशेष👉

Dainik Panchangआज शुक्रवार को 👉 आश्विन सुदी त्रयोदशी 06:59 तक पश्चात् चतुर्दशी 28:19 तक , चतुर्दशीतिथि का क्षय , श्री वराहा चतुर्दशी , जैन चौदस , पंचक जारी , मूल संज्ञक नक्षत्र 09:25 से , सर्वार्थसिद्धियोग / कार्यसिद्धियोग 09:25 से सूर्योदय तक , इस पंचांग को डारेक्ट हमसे प्राप्त करने के लिए “हरियाणा एजुकेशनल अपडेट ” फेसबुक पेज ज्वाइन करें , श्री के. आर. नारायणन – जयन्ती (सरकारी दस्तावेजों के हिसाब से) , श्री ब्रिंगटन बुहाई लिंगदोह (B. B. Lyngdoh ) स्मृति दिवस , श्री मदन लाल खुराना स्मृति दिवस , भारतीय पैदल सेना दिवस / इन्फैंट्री दिवस (Infantry Day , 77वाँ) , भारत स्वीडन नवाचार दिवस (10वाँ) , दृश्य-श्रव्य विरासत दिवस (World Day for Audio-Visual Leritage) व ऑडीओविज़ुअल हेरिटेज के लिए विश्व दिवस (World Day for Audiovisual Heritage).।

Read More:Aaj Ka Rashifal : सिंह सहित इन राशि वालों के लिये बनने जा रहे शुभ योग, होंगे खुशियों की बरसात

Dainik Panchang कल शनिवार को 👉 आश्विन सुदी पूर्णिमा 25:55 तक पश्चात् प्रतिपदा शुरु , स्नान – दान – व्रतादि की अश्विनी नक्षत्रयुता अश्विनी पूर्णिमा , शरद् पूर्णिमा , श्री सत्यनारायण / पूर्णिमा व्रत और पुण्य , महारास पूर्णिमा (व्रजभूमि ) , रात्रि में लक्ष्मी – कुबेरादि पूजा , बंगदेशीय लखी पूजा , आश्वयुजी कर्म (आश्वलायन शाखा ) , नवान्न भक्षण , कार्तिक स्नान प्रारम्भ , श्री कोजागरी व्रत , पूर्णिमा मास के व्रत – स्नान – यम – नियमादि समाप्त , आज से कार्तिक मास पर्यन्त आकाश दीपदान यज्ञ प्रारम्भ , विघ्नकारक भद्रा 15:06 तक , पंचक 07:31 तक , मूल संज्ञक नक्षत्र 29:54 तक , ओली समाप्त (जैन) , मेला सालासर बालाजी , महर्षि वाल्मीकि जयन्ती , भक्तिन मीरा बाई जयन्ती (आश्विन शरद पूर्णिमा ) , साल का आखिरी खण्डग्रास चंद्रग्रहण।

Related Articles

Back to top button