BIG BREAKING : चलती बस में Raveena Tandon हुई शारीरिक शोषण का शिकार, एक्ट्रेस का छलका दर्द

Raveena Tandon : 90 के दशक की बहुत सी अभिनेत्रियां ऐसी हैं जो बड़े पर्दे से पूरी तरह गायब हो चुकी हैं और धीरे धीरे लोग उनका नाम भी भूल गए हैं। हालांकि कुछ अभिनेत्रियां ऐसी भी हैं जो फिल्मों में भले ही कम नजर आएं लेकिन अक्सर चर्चा में बनी रहती हैं। इसमें मस्त मस्त गर्ल रवीना टंडन का नाम भी शामिल हैं। Raveena Tandon फिल्मों से दूर हैं लेकिन सोशल मीडिया पर वो काफी एक्टिव रहती हैं।

वो अक्सर अपनी शानदार तस्वीरें भी पोस्ट करती हैं जो फैंस को काफी पसंद आती है। सिर्फ इतना ही नहीं रवीना अपने बेबाक और बेधड़क अंदाज के लिए भी काफी मशहूर हैं। किसी भी मुद्दे पर वो अपनी राय जाहिर करने से पीछे नहीं हटती हैं। वहीं किसी भी ट्रोलिंग का वो मुंह तोड़ जवाब देती हैं। हाल ही में रवीना टंडन ने अपने बारे में एक ऐसा चौंकाने वाला खुलासा किया है जिसकी किसी को उम्मीद नहीं थी।

Read More : ‘टिप टिप बरसा पानी ‘ को लेकर Raveena Tandon को सहना पड़ा दर्द,शूटिंग के दौरान…

शोषण का शिकार हो चुकी हैं Raveena Tandon: दरअसल इन दिनों महाराष्ट्र में आरे मेट्रो 3 कारशेड का मुद्दा गर्माया हुआ है। सत्ता बदलने के साथ साथ इस मुद्दे को लेकर भी गहमा गहमी दिख रही है। इसे बनाने के लिए आरे जंगल को काटना पड़ेगा जिसके खिलाफ आम जनता और नेता सामने आ चुके हैं। साथ ही बहुत से सेलेब्स भी हैं जिन्होंने इस पर आपत्ति जताई है। इसमें रवीना टंडन का भी नाम शामिल है। रवीना ने नेचर को बचाने का समर्थन करते हुए इसे ना बनाने की बात कही।

ऐसे में उनकी बात को देखते हुए एक ट्वीटर यूजर ने मुंबई की लोकल का एक वीडियो शेयर किया जिसमें सफर करते हुए एक शख्स दरवाजे से नीचे गिर जाता है। इस पर यूजर ने रवीना टंडन से पूछा कि आखिरी बार उन्होंने कब ऐसे सफर किया होगा? इस पर रवीना ने बताया कि टीनएज में उन्होंने भी ऐसे ही लोकल ट्रेनों और बसों में सफर किया है। इतना ही नहीं वो छेड़छाड़ का भी शिकार हुईं थीं।

Read More : ‘टिप टिप बरसा पानी ‘ को लेकर Raveena Tandon को सहना पड़ा दर्द,शूटिंग के दौरान…

रवीना ने लिखा- टीनएज के दिनों में लोकल ट्रेन और बसों में सफर किया है, छेड़छाड़ का शिकार हुई, मुझे चुटकी काटी जाती थी, वही जिससे ज्यादातर महिलाएं गुजरती हैं। मैंने साल 1992 में पहली बार कार खरीदी। विकास का स्वागत करना चाहिए लेकिन हमें जिम्मेदार भी होना होगा। ये सिर्फ प्रोजेक्ट ही नहीं है, हम इसके लिए जंगलों को काटने की बात कर रहे हैं।

आरे मेट्रो 3 कारशेड को लेकर हो रही बहस: इसके साथ ही एक और ट्वीट में रवीना ने ट्रोलर को जवाब देते हुए लिखा- 1991 में मैंने भी ऐसे सफर किया है और आप जैसे बिना नाम वाले लोगों ने मेरा शारीरिक शोषण भी किया है। काम करने से पहले मैंने सफलता देखी और पैसे कमाकर गाड़ी खरीदी। ट्रोल जी, नागपुर के हो, हरा भरा है आपका शहर, किसी की सफलता देखकर उससे जलना नहीं चाहिए।

अब रवीना टंडन के इस खुलासे पर यूजर्स तमाम प्रतिक्रिया दे रहे हैं। लोगों ने रवीना की सफलता देखी है लेकिन किसी ने नहीं सोचा होगा कि आम लड़कियों की तरह रवीना को भी ऐसी परेशानियों से गुजरना पड़ा होगा। रवीना टंडन नहीं चाहतीं कि आरे मेट्रो 3 कारशेड बनाने के लिए आरे जंगल को काटा जाए जिसे लेकर कई यूजर्स उनके विरोध में आ गए हैं।

 

 

Related Articles

Back to top button