Ajab-Gajab : सालो से लिव-इन रिलेशनशिप में रहते हैं इस जनजाति,बच्चे हो जाने के बाद धूमधाम से होती है शादी

Ajab-Gajab : दिल्ली, मुंबई, जैसे बड़े शहरों में युवाओं का शादी से पहले एक दूसरे के साथ, एक ही घर में रहना काफी आम बात हो चुकी है. इसे लिव-इन रिलेशनशिप कहते हैं. हालांकि, छोटे शहरों में इसे आज भी पाप की तरह देखा जाता है और कई युवाओं को तो अपने घर में इसके बारे में छुपाना भी पड़ता है. अगर बात गांव की हो, तो ऐसी परंपरा के बारे में सुनकर तलवारें तन जाती हैं. पर क्या आप जानते हैं कि भारत में एक जगह ऐसी भी है, जहां लिव-इन रिलेशनशिप (Live In Relationship in Indian tribe) में रहना बेहद आम बात है और माता-पिता खुद इसकी इजाजत अपने बच्चों को देते हैं. यही नहीं, यहां औरतें शादी से पहले ही मां भी बन जाती हैं.

Read More:Ankita Lokhande का छलका दर्द, कहा रोल के बदले बड़े प्रड्यूसर ने मेरे साथ से क्स…

हम बात कर रहे हैं राजस्थान और गुजरात में रहने वाली जनजाति गरासिया (Garasia tribe live-in relationship) की. इस जनजाति (Women become mother before marriage) की परंपरा को करीब से देखने पर आपको मॉडर्न जमाने के लिव-इन रिलेशनशिप की झलक देखने को मिलेगी. इस जनजाति में पुरुष और महिला बिना शादी के साथ रह लेते हैं और महिलाएं शादी से पहले मां भी बन जाती हैं. औरतों को ये हक होता है कि वो अपने मन मुताबिक लड़का चुन सकें.

Read more:Se@x : ये एक्ट्रेस पार कर रही मर्यादा की साडी हदें, आये दिन बनाती है गैर मर्दों से शारिरिक संबंध

मेले से पार्टनर के साथ भाग जाते हैं लोग
शादी के लिए यहां दो दिनों का गौर मेला लगता है. इस मेले में लड़के-लड़कियां जुटते हैं और अगर उन्हें कोई पसंद आ जाता है तो वो उसके साथ मेले से भाग जाते हैं. फिर वो बिना शादी किए ही एक दूसरे के साथ रहने लगते हैं. इस दौरान उनका बच्चा भी हो सकता है जो उनके इच्छा के मुताबिक ही होता है. तब वो अपने गांव लौटते हैं और माता-पिता धूमधाम से उनकी शादी करवाते हैं. वो चाहें तो बिना शादी किए भी रह सकते हैं.

Read more:Petrol-Diesel की कीमतों में आई भारी गिरावट, जाने आज का ताजा भाव

इस वजह से लिव-इन में रहने की शुरू हुई प्रथा
इस जनजाति में लिव-इन में रहने की प्रथा सालों पुरानी है. माना जाता है कि सालों पहले इस जनजाति के 4 भाई कहीं और जाकर रहने लगे. इनमें से 3 लोगों ने भारतीय तौर-तरीकों से शादी की पर एक भाई शादी किए बिना ही किसी लड़की के साथ लिव-इन में रहने लगा. उन तीनों भाइयों की कोई संतान नहीं हुई पर चौथे भाई की संतान पैदा हुई. बस तब से ही यहां लिव-इन में रहने की परंपरा शुरू हो गई है. रिपोर्ट्स के अनुसार गरासिया औरतें अगर चाहें तो दूसरे मेले में, पहले पार्टनर के होते हुए, दूसरा पार्टनर भी चुन सकती हैं.

Related Articles

Back to top button