Ajab-Gajab : इस जनजाति में है क्रूर प्रथा,गोरा बच्चा पैदा होने पर कर दिया जाता है क़त्ल

Ajab-Gajab : आज हर माँ-बाप अच्छे व गोरे बच्चे की चाह रखते हैं. जिसके लिए न जाने क्या-क्या जतन करते हैं. दुनिया में ऐसी भी जगह है जहां के लोग नहीं चाहते की उनका बच्चा गोरा हो. गोरे बच्चे का जन्म एक तरह से इनके लिए अभिशाप है. गोरे गोरे बच्चे के जन्म होते ही बच्चे की हत्या कर दी जाती है. ये अजोबो गरीब किस्से कही और के नहीं बल्कि भारत के अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में जारवा जनजाति का है.

Read More :सेक्स कॉमेडी में काम करने को लेक Bhumi Pednekar ने कहा,मैं मर्दों को सारे मजे करते देख…

Ajab-Gajab : जारवा जनजाति को दुनिया का सबसे पुरानी जनजाति माना जाता है. इस जनजाति में क्रूर प्रथा का पालन आज भी किया जा रहा है. जो बेहद प्रचलित है.कहते अगर किसी घर में गोर बच्चे ने जन्म ले किया तो उसको सहमत आ जाती है. इस जनजाति में गोर बच्चे को अभिशाप माना जाता है. इस जनजाती को अफ्रीका का मूल निवासी बताया जा रहा है.

Read more :Ajab-Gajab : युवक ने बीच बाजार में उड़ाए नोट,पैसा लूटने लगी लोगों की भीड़,पुलिस पहुंची तो युवक को याद आई नानी

जारवा जनजाति के सभी लोग काले रंग के होते हैं. वही इस जनजाति के किसी महिला के गोरे बच्चे पैदा होना अभिशाप माना जाता है.और माना जाता है बच्चा जनजाति से बाहर का है.जिसके चलते उसकी हत्या तक कर दी जाती है. वही पैदा होने वाले बच्चे को पुरे कबीले की महिलाओं का स्तनपान कराया जाता है.

ऐसा करने से माना जाता है कबीले की शुद्धता बरकरार रहती है. इस जनजाति के बारे में लोगों को 90 के दशक में पता चला. भारत सरकार ने इस संस्कृति के लोगों का फोटो खींचने या सोशल मीडिया पे पोस्ट उपलोड करने को लकेकर सख्त कानून बना रखा है. अगर कोई इनकी तस्वीर लेता है और उसे सोशल मीडिया पर अपलोड करता है, तो उसे जेल तक जाना पड़ सकता है.

Related Articles

Back to top button